Tuesday, January 31, 2017


गुरु श्यामलाल स्मृति दंगल - 2015 ,

सौजन्य से राजिंदर पहलवान ,

स्पॉन्सर्ड बाई लोहिया स्पोर्ट्स क्लब। संयोजक बिजेन्दर लोहिया।

दंगल की आखिरी कुश्ती जीतू पहलवान गुरु श्याम लाल घिटोरनी व रुहिल पहलवान गुरु मोटा अखाडा लाडपुर कोच मुकुल पहलवान के बीच दस मिनट बराबर रही। फिर कुश्ती को दो मिनट और दिए गए जिसमे जीतू पहलवान विजयी रहे। उनकी जीत पर उनके फैंस बहुत खुश हुए , उनके ही गाँव पहलवान की एक बढ़िया कुश्ती देख कर , गाँव के लोगों ने उन्हें कंधो पर उठा लिया और ख़ुशी से झूम उठे।