Thursday, September 25, 2014

Jeetu's Unfortunate fight with Sonu Pandit, breaking knee ligaments


JEETU PAHALWAN vs SONU PANDIT ,
Jeetu gets Injured , breaks knee ligaments


ये सोनू पंडित सर्फाबाद और जीतू के बीच कुश्ती की वीडियो हैं।  कुश्ती बढ़िया थी लेकिन जीतू पहलवान के चोटिल होने पर कुश्ती बीच में रोककर सोनू पंडित को दे दी गई।  कुश्ती महज कुछ सेकंड चली , जिसमे दोनों पहलवान एक दुसरे को तोलते हैं , और फिर जीतू  ढाक लगाते हैं , इस दांव में विरोधी के अंदर घुस कर, अपना कूल्हा विरोधी के सीने के नीचे लगा कर उसे अपने पुट्ठे पर लड़ते हुए , खैंच मार कर कर हवा में ऊपर उठाते हुए नीचे पटकते हैं, जैसे कुली बोरे को पटकता हैं ,  ये एक बहुत फुर्ती से लगाया जाने वाला दांव हैं , जिसमे ख़ास कर पैरों की ताल , शेष शरीर की गति के साथ होनी चाहिए ,  एक पैर सामने पहलवान के अंदर की तरफ जाता हैं जबकि फुर्ती से प्रतिद्वंदी को उठा कर दुसरे पैर पर वजन शिफ्ट करना होता हैं , जीतू ने ढाक लगाईं और सोनू को अपने पुट्ठे पर उठा कर हाथ और सीना बाँध कर तेजी से झटका दिया तो सोनू ने अपना वजन शिफ्ट किया , वहीँ सारा वजन पूरी गति के साथ जीतू के मुड़े हुए घुटनो पर आया और लिगामेंट्स ( घुटने के तन्तु ) को तोड़ गया।  आगे की कहानी बड़ी दुर्भाग्य पूर्ण रही।  डॉक्टरों ने ऑपरेशन की सलाह दी , सर्जरी से आर्टिफीसियल लिगमेंट्स इम्प्लांटेड हुए , और जीतू को अखाड़े तक आने में एक साल लग गया। कुश्ती में चोट आम बात हैं , अक्सर आप मेरी वीडियो में लंगड़ाते पहलवानो को देखेंगे , या घुटने पर कैप चढ़ाये।  मशहूर पहलवान ओलिंपिक मेडल विजेता योगेश्वर दत्त ,  व्  नवीन मोर जैसे पहलवान भी घुटनो या कंधो की चोट से बाहर रहे।   और सर्जरी के बाद दुबारा अखाड़े में आये।  लेकिन सब पहलवान इतने भाग्यशाली नहीं , कुछ लंगड़ाते - २ लड़ रहे हैं , कुछ दुखी होकर बैठ गए।  मेरी इच्छा है की दर्शकों के लिए जान की बाज़ी लगाने , वाले हाथ पैर तुड़वा बैठे इन पहलवानो  का मुफ्त इलाज़ होना चाहिए। 

This match between Jeetu and Sonu Pandit, sarfabad was played at village Surfabad. It was going to be a very good match between two promising wrestlers. The match started with much fanfare , and expected to be a great one, however it has to be stopped because Jeetu pahlwan got his leg broken in the ensuing fight. for a few seconds both the wrestler judged each other, then jeetu tried a takedown called "dhak" in which the opponent is thrown directly onto hsi  back for a fall. while doing this jeetu has to shift the weight on his feet, while doing this his feet got stuck in the mud and the whole weight with the it all velocity centred on his knees, causing injury.  The doctors at the hospital told him that he broke both ligaments in the knee joints , and that was very sad news for him. He was operated later and artificial ligaments were implanted in his knees. Knee injury is very common in wrestling, you can watch my videos, how many many wrestlers are limping, or wearing knee caps to avoid knee injuries. I know a number of wrestler who were not as lucky as Jeetu to bear the cost of surgery. These wrestler are continuing even with broken ligaments, or have stopped wrestling. This is very very unfortunate for the sports. I wish they provided surgeries free of cost so that they can play again. at least they have played and showed their skills and entertained people for free. Jeetu remained hospitalised for a while, than physical therapy and training took him almost one year to come back to the arena.